इंटरनेट प्लान 28 दिन के क्यो होते है । Why Internet Plans are 28 Days

इंटरनेट प्लान 1 महीने के ना होकर 28 दिन के क्यों होते हैं ?


इंटरनेट प्लान 1 महीने के ना होकर 28 दिन के क्यों होते हैं ?


इस पोस्ट की शुरुआत करने से पहले मैं आपसे एक सवाल पूछना चाहता हूं कि एक महीने में कितने दिन होते हैं ? तो आपका जवाब होगा 30 दिन । पर टेलीकॉम कंपनियों का महीना 28 दिन का क्यों होता हैं ? आज हम इसी बारे में बात करेंगे कि रिचार्ज प्लान (Tariff Plans) 28, 56, 84 दिनों की वैलिडिटी के साथ ही क्यों आते हैं ?


भारत में मोबाइल Tariff Plans 28 दिनों का ही क्यों होता है ?


इसके पीछे हैं बड़ा खेल 

अगर हम 1 महीने में 28 दिन मानकर चलते हैं तो 1 साल में 12 के बजाय 13 महीने हो जायेंगे। और यहीं इन कंपनियों की marketing strategy होती हैं। अगर आपको समझ में नही आया तो जानते हैं इस बात को डिटेल में। 


जैसा कि हमें पता हैं 1 साल में 7 महीने ऐसे होते हैं, जिनमें 31 दिन होते हैं। 28 दिन के महीने के हिसाब से हर महीने में से 3 दिन शेष बच जाते हैं। प्रति महीने के हिसाब से (7×3) = 21 दिन हो जाएंगे। साल में 4 महीने ऐसे होते हैं, जो 30 दिन के होते हैं। इनमें से भी 2 दिन हर महीने शेष रह जाते हैं। प्रति महीने के हिसाब से (2×4) = 8 दिन हो जाएंगे। अगर फ़रवरी 29 दिन का है तो ऐसे में (21+ 8 +1) = 30 दिन होते हैं।


इसके पीछे एक वजह है और वो है Marketing और Profit Maximization । यह कंपनियां आपको महीने से नही बल्कि हप्ते से जोड़कर देती है।


कभी-कभी किसी चीज का Price को कम नही किया जाता है बल्कि उसकी Quantity को कम कर दिया जाता है ताकि लोग उसको खरीदते रहे उनको ये न लगे कि ये समान महंगा हो गया है।


आपने अगर ध्यान किया हो तो कुछ कंपनी के hair oil की शीशी 200 ml की जगह 190ml और 250ml की जगह 240ml आने लगी हैं । लोग सोचते हैं कि 10ml कम होने से कुछ नहीं होता , पर यह 10-10ml जब collect होता हैं तो कई हज़ार लीटर बन जाता हैं। यहीं कारण हैं 28 दिन की वैलिडिटी के साथ आता है प्री-पेड रिचार्ज या डाटा पैक ?


Post a Comment

0 Comments